इटावा लाइव के समस्त पाठकों का इटावा लाइव परिवार हार्दिक स्वागत करता है।

एकलव्य स्टडी सर्किल ,मुख्य शाखा, प्रथम तल सियाराम मार्केट,भर्थना चौराहा ,इटावा , संपर्क सूत्र -9456629911,8449200060  | रिनेसाँ एकेडेमी,विकास कॉलोनी भाग-2 , कानपुर रोड, पक्का बाग, इटावा फोन नंबर -9456800140  | गरुकुल कंप्यूटर एजुकेशन एंड मैनेजमेंट ,इंफ्रोन्ट ऑफ़ रामलीला रोड ,गोविन्द नगर इटावा डायरेक्टर मोहम्मद शहीद अख्तर ,संपर्क सूत्र-9412190565  | रॉयल ऑक्सफ़ोर्ड इंटरनेशनल सीनियर सेकेण्डरी स्कूल एडमिशन ओपन क्लास पी.जी. से ट्वेल्थ पता रामलीला रोड इटावा ,संपर्क सूत्र-9927176666,9917166666  | सेंट मारिया स्कूल ,एडमिशन ओपन ,प्ले से इलेवेंथ ,पता बम्ब रोड ,पास लोहिया गैस गोदाम नयी मंडी इटावा,संपर्क सूत्र -८७५५५१९२१६,८७५५५१९२०४.  | ए-वन कम्पटीशन जोन फ्रेंड्स कॉलोनी भरथना चौराहा इटावा डायरेक्टर देवेंद्र सूर्यवंशी I  | विज्ञापन व समाचार प्रकाशन हेतु सम्पर्क करें- आशुतोष दुबे (संपादक) मो0- 9411871956 | e-mail :-newsashutosh10@gmail.com   | भरथना तहसील क्षेत्र अन्तर्गत समाचार प्रकाशन हेतु सम्पर्क करें- तनुज श्रीवास्तव (तहसील प्रतिनिधि) मो0- 9720063658  | 
स्‍पेशल रिपोर्ट

निरीक्षण से पहले जिला अस्पताल का किया कायाकल्प

Ashutosh Dubey

इटावा, 4 सितम्बर। बाबा भीमराव अम्बेडकर संयुक्त जिला चिकित्सालय के निरीक्षण के लिए सोमवार को काया कल्प टीम पहुंची। दो सदसीय टीम में एक सदस्य 10 बजे पहुंच गए लेकिन दूसरे सदस्य दोपहर बाद आ सके। निरीक्षण टीम के आने से पूर्व चिकित्सालय में कायाकल्प दिखाई दिया। साफ सफाई से लेकर चिकित्सक व कर्मचारियों के साथ मरीज भी ड्रेस में दिखाई दिए।
मार्च माह से समय-समय पर जिला चिकित्सालय के दशा व दिशा सुधारने के लिए प्रादेशिक स्तर से प्रयास किए जा रहे है। इसके तहत कायाकल्प टीम निरीक्षण के लिए आती है। इसी क्रम में सोमवार को कायाकल्प टीम यहां पहुंची। हालांकि टीम के एक सदस्य मथुरा से सुबह करीब 10 बजे यहां पहुंच गए। जबकि दूसरे सदस्य लखनउ से दोपहर बाद आ सके। दो सदस्सीय टीम के आने की सूचना से जिला चिकित्सालय का कायाकल्प वहां मौजूद गरीब व उनके तीमारदारों को देखने को मिला। चिकित्सालय में चाक चौबंद साफ सफाई के साथ चिकित्सक व कर्मचारी अपनी पूरी बेषभूषा में डयूटी करते नजर आए। चिकित्सालय के वार्डों में भर्ती मरीजों को भी साफ सुधरी ड्रेस पहनने को दी गई। स्ट्रेचरों पर गद्दे बिछा दिए गए। वार्डों में मरीजों के बैड पर मच्छरदानी लगा दी गई। यह बात अलग  है कि यह पूरा इंतजाम टीम के यहां मौजूद रहने तक ही है। कुछ भी सही दो दिन तक अस्पताल देखते ही बनेगा। 
जिला अस्पताल के इस कायाकल्प किए जाने के दौरान भूतल पर इमरजेन्सी वार्ड में भर्ती हादसे में घायल हुए वी पील एल कार्ड धारक मरीज मुवीन पुत्र मुन्नेखां निवासी छोटी फूफई थाना इकदिल की मां ने बताया कि 15 दिन पूर्व उनके पुत्र का एक हाथ व पैर में दुर्घटना के दौरान फै्रक्चर हो गया। अस्पताल में उनकी कोई सुनवाई नही हुई। आपरेशन के लिए उनसे 15 हजार रू. की मांग की जा रही है। यही कहानी कांशीराम कालौनी निवासी विकलांग मरीज संजू की है। उसकी मां मीना का आरोप है कि उसका पुत्र एक पैर से विकलांग हैं। दूसरा पैर हादसे में टूट गया। आपरेशन के लिए उससे 8 हजार की मांग हो रही है। डी.एम. से गुहार लगाने पर भी उसके बेटे का आपरेशन नही हो सका है। केवल प्लास्टर चढा दिया जिससे अब तक हड्डी नही जुड सकी है।
 

Report :- Ashutosh Dubey
Posted Date :- 04-09-2017
स्‍पेशल रिपोर्ट
Video Gallery
Photo Gallery

Portal Owned, Maintained and Updated by : Etawah Live Team || Designed, Developed and Hosted by : http://portals.news/