इटावा लाइव के समस्त पाठकों का इटावा लाइव परिवार हार्दिक स्वागत करता है।

एकलव्य स्टडी सर्किल ,मुख्य शाखा, प्रथम तल सियाराम मार्केट,भर्थना चौराहा ,इटावा , संपर्क सूत्र -9456629911,8449200060  | रिनेसाँ एकेडेमी,विकास कॉलोनी भाग-2 , कानपुर रोड, पक्का बाग, इटावा फोन नंबर -9456800140  | गरुकुल कंप्यूटर एजुकेशन एंड मैनेजमेंट ,इंफ्रोन्ट ऑफ़ रामलीला रोड ,गोविन्द नगर इटावा डायरेक्टर मोहम्मद शहीद अख्तर ,संपर्क सूत्र-9412190565  | रॉयल ऑक्सफ़ोर्ड इंटरनेशनल सीनियर सेकेण्डरी स्कूल एडमिशन ओपन क्लास पी.जी. से ट्वेल्थ पता रामलीला रोड इटावा ,संपर्क सूत्र-9927176666,9917166666  | सेंट मारिया स्कूल ,एडमिशन ओपन ,प्ले से इलेवेंथ ,पता बम्ब रोड ,पास लोहिया गैस गोदाम नयी मंडी इटावा,संपर्क सूत्र -८७५५५१९२१६,८७५५५१९२०४.  | ए-वन कम्पटीशन जोन फ्रेंड्स कॉलोनी भरथना चौराहा इटावा डायरेक्टर देवेंद्र सूर्यवंशी I  | विज्ञापन व समाचार प्रकाशन हेतु सम्पर्क करें- आशुतोष दुबे (संपादक) मो0- 9411871956 | e-mail :-newsashutosh10@gmail.com   | भरथना तहसील क्षेत्र अन्तर्गत समाचार प्रकाशन हेतु सम्पर्क करें- तनुज श्रीवास्तव (तहसील प्रतिनिधि) मो0- 9720063658  | 
देश विदेश

प्राचीन मूर्ति में हुआ चमत्कार,भक्तों में उमंग की लहर

Ajay Kumar

उदयपुर(राजस्‍थान)- गुजरात राज्य में महेसाणा से 50 किलोमीटर दूर बहुचराजी तहसील के ग्राम शंखलपुर में, इन दिनों लोग आश्चर्यचकित है,और ऐसा हुआ है एक मंदिर में स्थित विमलनाथ प्रभु की प्राचीन प्रतिमा में अपने आप हुये एक परिवर्तन से। जानकारी के अनुसार प्रतिमा की एक आंख आश्चर्यजनक ढंग से सुनहरी हो गई है, इससे जैन समुदाय में उमंग और उल्लास छा गया है। शंखलपुर जैन श्वेतांबर मूर्तिपूजक संघ के जिनालय के रंगमंडप में विराजमान 15 मूर्तियों में से एक मूर्ति प्रभु विमलनाथ की है। 14 इंच ऊंची इस प्रतिमा की एक आंख सुनहरी रंग की हो गई है। हालांकि मूर्तिपूजक का कहना है कि पिछले 8 दिनों से लगातार मूर्ति की एक आंख में यह परिवर्तन देखा जा रहा था,लेकिन अब यह पूरी तरह से सुनहरे रंग में परिवर्तित हो गई है। इस बारे में शंखलपुर,जैनसंघ के प्रमुख प्रबोधभाई शाह ने बताया कि शुरुआत में आंख का कुछ ही भाग सुनहरा हुआ था,लेकिन अब आंख पूरी तरह से स्वर्णमय हो गई है। इधर पुष्करवाणी ग्रुप ने जैनसंघ के बताये अनुसार बताया कि लगभग सात वर्ष पूर्व 15 प्रतिमाएं जमीन से प्रकट हुई थीं। यह प्रतिमा 7 जून,2005 को गांव में पानी के पाइपलाइन की खुदाई के समय जमीन से निकली थी। इस प्रतिमा के साथ महावीर स्वामी, आदेश्वर, नेमीनाथ, शांतिनाथ, पाश्र्वनाथ, पदमप्रभु, धर्मनाथ आदि देवताओं की कुल 15 प्रतिमाएं भी हैं,और यह सभी 12 इंच से 52 इंच ऊंची हैं। ये प्रतिमाएं 1100 से 1200 वर्ष प्राचीन बताई जाती हैं। नोट-यह खबर देश/वि‍देश कॉलम में भी पढ़ी जा सकती है।

Report :- Ajay Kumar
Posted Date :- 18/10/2012
देश विदेश
Video Gallery
Photo Gallery

Portal Owned, Maintained and Updated by : Etawah Live Team || Designed, Developed and Hosted by : http://portals.news/