इटावा लाइव के समस्त पाठकों का इटावा लाइव परिवार हार्दिक स्वागत करता है।

एकलव्य स्टडी सर्किल ,मुख्य शाखा, प्रथम तल सियाराम मार्केट,भर्थना चौराहा ,इटावा , संपर्क सूत्र -9456629911,8449200060  | रिनेसाँ एकेडेमी,विकास कॉलोनी भाग-2 , कानपुर रोड, पक्का बाग, इटावा फोन नंबर -9456800140  | गरुकुल कंप्यूटर एजुकेशन एंड मैनेजमेंट ,इंफ्रोन्ट ऑफ़ रामलीला रोड ,गोविन्द नगर इटावा डायरेक्टर मोहम्मद शहीद अख्तर ,संपर्क सूत्र-9412190565  | रॉयल ऑक्सफ़ोर्ड इंटरनेशनल सीनियर सेकेण्डरी स्कूल एडमिशन ओपन क्लास पी.जी. से ट्वेल्थ पता रामलीला रोड इटावा ,संपर्क सूत्र-9927176666,9917166666  | सेंट मारिया स्कूल ,एडमिशन ओपन ,प्ले से इलेवेंथ ,पता बम्ब रोड ,पास लोहिया गैस गोदाम नयी मंडी इटावा,संपर्क सूत्र -८७५५५१९२१६,८७५५५१९२०४.  | ए-वन कम्पटीशन जोन फ्रेंड्स कॉलोनी भरथना चौराहा इटावा डायरेक्टर देवेंद्र सूर्यवंशी I  | विज्ञापन व समाचार प्रकाशन हेतु सम्पर्क करें- आशुतोष दुबे (संपादक) मो0- 9411871956 | e-mail :-newsashutosh10@gmail.com   | भरथना तहसील क्षेत्र अन्तर्गत समाचार प्रकाशन हेतु सम्पर्क करें- तनुज श्रीवास्तव (तहसील प्रतिनिधि) मो0- 9720063658  | 
साक्षात्‍कार

12 हजार का इनाम घोषित

Ashutosh Dubey

इटावा, 31 अगस्त। जसवंतनगर भ_ा व्यवसायी और सभासद भोले यादव के अपहरण में वांछित अभियुक्त नीलेश निवासी परसौआ पर 12 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया गया है। पुलिस महकमे में ही छिपे बैठे ‘जासूस’ की वजह से वह चंद रोज पहले क्राइम ब्रांच के शिकंजे में आते-आते बच निकलने में सफल रहा था। हालांकि एसएसपी वैभव कृष्ण क्राइम ब्रांच के उस जासूस वरुण यादव के निलंबन और मुकदमा की कार्रवाई कर चुके हैं और नीलेश की तलाश में पुलिस की कई टीमें जुटी हुई हैं।  
जसवंतनगर पुलिस की विवेचना के मुताबिक नीलेश यादव ने ही अपने पांच साथियों के साथ मिलकर 22 मई को को कचौरा रेलवे पुल के नीचे एक ट्रक ड्राइवर की हत्या कर लूट की थी। जिसके संबंध में 25 अगस्त को एसएसपी द्वारा पांच हजार रुपये का इनामी अपराधी घोषित किया गया था। इसी क्रम में 28 अगस्त को पुलिस महानिरीक्षक कानपुर परिक्षेत्र कानपुर द्वारा नीलेश पर 12000 का इनाम घोषित किया गया है। नीलेश पर विभिन्न जनपदों के विभिन्न थानों 30 अभियोग संगीन धाराओं में पंजीकृत हैं। 
भोले यादव के अपहरण को दो माह से अधिक का वक्त गुजर गया है। विवेचना के दौरान प्रकाश में आए चार अपहरणकर्ताओं में नीलेश चंद रोज पहले तब सुर्खियों में आया था जब उसके संपर्क में रहे क्राइम ब्रांच के ही सिपाही वरुण यादव ने भगाने में भूमिका निभाई थी। वही अपहरणकर्ताओं को पुलिस महकमे की पल-पल की गतिविधियों की जानकारी देकर मदद कर रहा था। यह भेद तब खुला जब क्राइम ब्रांच की टीम सर्विलांस से मिली लोकेशन पर नीलेश को गिरफ्तार करने के लिए आगरा-जयपुर मार्ग पर जा रही थी। एसएसपी ने नीलेश के जल्द गिरफ्तार कर लिए जाने की उम्मीद जताई है।
 

Report :- Ashutosh Dubey
Posted Date :- 31-08-2017
साक्षात्‍कार
Video Gallery
Photo Gallery

Portal Owned, Maintained and Updated by : Etawah Live Team || Designed, Developed and Hosted by : http://portals.news/