latest

दूसरों की आवाज उठाने बालों की ही जबान बन्द होने लगी ।

चकरनगर(इटावा)योगी जी आपकी सरकार में आखिर ये हो क्या रहा है ।दूसरों की आवाज उठाने वालों की ही  आवाज दाबी जा रही है ।सर्किल क्षेत्र चकरनगर में अभी कुछ ही समय पहले पत्रकार देशराज यादव के साथ हुए हादसे में खुद घेराडाल कर रिपोर्ट दर्ज हुई थी जब कि उक्त पत्रकार पर ही हमला हुआ था ।उसे भूल ही नही पाए कि लबेदी थाना क्षेत्र के वरिष्ठ पत्रकार तरुण त्रिपाठी के खिलाफ भी दबंगों ने मुकदमा लिखवा दिया ।समूचे क्षेत्र के पत्रकारों ने योगी सरकार से निवेदन किया है ।कि पिछले कई कार्यकालों में एक भी कलम के सिपाही को उक्त समस्या का सामना नही करना पड़ा था ।लेकिन आज आपकी सरकार में देश का चौथा स्तम्ब खतरे में पड़ा दिखाई दे रहा है ।आपकी योजनाएं और खबरों को जन जन तक पहुंचाने वाले तथा गरीबो और असाध्य लोगों की आवाज उठाने वालों की खुद आवाज दबाई जा रही है ।कभी गुंडों के द्वारा जानलेवा हमला हो रहा है तो कहीं फर्जी मुकदमा लिखकर पत्रकारों का बुरी तरह उत्पीड़न किया जा रहा है ।एक के बाद एक लरी सी लगी है ।पहले महेवा में राजू दुवे तो चकरनगर में देशराज और अब थाना लबेदी क्षेत्र में तरुण त्रिपाठी के खिलाफ दबंगों ने उल्टी   रिपोर्ट दर्ज करा दी ।कहने को तो लोग ये कहते थे कि पिछली सरकारों  में गुंडा गर्दी और कुशासन था ।लेकिन ये सब इस बात का सबूत बनता जा रहा है ।कि सपा और बसपा सरकार में क्षेत्र के एक भी पत्रकार का किसी भी प्रकार का उत्पीडन नही हुआ था ।लेकिन पिछले कुछ महीने से पत्रकारों  के खिलाफ मामलो में मानो बाढ़ सी आ गयी  है ।चकरनगर प्रेसक्लब की अध्यक्षता करते हुए ।वरिष्ठ पत्रकार अनामी शरण त्रिपाठी ने  योगी सरकार से आग्रह किया है कि पत्रकारों पर हमले और फर्जी मुकदमा में फसाए जाने के मामलो को गंभीरता से लें ।ताकि देश का चौथा स्तम्भ मजबूत हो ।और वर्तमान में जो वरिष्ठ पत्रकार तरुण त्रिपाठी थाना लबेदी के खिलाफ दबंगो द्वारा  मुकदमा दर्ज कराया गया है उसकी कप्तान साहब निष्पक्षता से जांच कराकर मामला एक्सपंज करवा दें  ऐसी कप्तान साहब से गुजारिश लगाई है ।इस चिंतन घड़ी में वरिष्ठ पत्रकार डाँ एसबीएस चौहान ,देशराज यादव,मुकेश यादव,धर्मेन्द्र प्रताप सिंह सेंगर , अंकित पाण्डेय,विकास दिवाकर ,रामकेश सिंह ,मनोज भदौरिया, अरबिंद सिंह राजावत, लालू रावत कैमरामैन व चंदू यादव आदि मौजूद रहे।

बचपन में कछुआ और खरगोश की कहानी पढी थी आज तक समझ नहीं आया की कछुए में इतना कॉन्फिडेंस आया कहा से, खैर मेरी ईमेल etawah.news@gmail.com पर आप ख़बरें व सुझाव भेज सकते अगर जरुरी लगे तो 9412182324, 7017070200 पर कॉल भी कर सकते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *