पालिका के नवीन व्यापार कर/लाइसेंस शुल्क का व्यापारियों ने किया पुरजोर विरोध

भरथना (रिपोर्ट- तनुज श्रीवास्तव)- नगर पालिका परिषद द्वारा व्यापारियों पर लगाये जाने वाले नवीन व्यापार कर/लाइसेंस शुल्क का व्यापारियों ने एक स्वर में जमकर विरोध किया तथा उक्त कर/शुल्क को व्यापारी विरोधी बताते हुए किसी भी सूरत में लागू न करने पर पुरजोर बल दिया। साथ ही लगाये जाने वाले कर की विसंगतियों को दूर करने पर भी चर्चा हुई।

गुरूवार की दोपहर नगर पालिका परिषद के सभागार में पालिका द्वारा अपनी सीमान्तर्गत व्यापार करने वाले व्यापारियों पर लगाये गये नवीन व्यापार कर/लाइसेंस शुल्क के सम्बन्ध में आपत्ति-सुझाव व विचार विमर्श हेतु एक आवश्यक बैठक आहूत की गई थी। बैठक में पहुंचे सभी व्यापारियों ने पालिका द्वारा लगाये गये इस टैक्स का पुरजोर विरोध कर इसे किसी भी सूरत में लागू न करने की बात कही। बैठक में मौजूद टैक्स पर पूर्ण असहमति जाहिर करने वाले व्यापारियों को सम्बोधित करते हुए पालिकाध्यक्ष हाकिम सिंह ने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप नगर पालिका परिषद उक्त टैक्स को लागू करने के लिए बाध्य है। लेकिन नगर पालिका व्यापारियों की पूर्ण सहमति के उपरान्त ही इसे लागू करेगी। चैयरमैन श्री सिंह ने कहा कि उनका प्रयास है कि व्यापार मण्डल की पाँच सदस्यीय टीम व नगर पालिका के बीच टैक्स सम्बन्धी सभी विषयों पर पुनरीक्षण करके टैक्स की विसंगतियों को दूर कर ही व्यापारियों पर लागू किया जाये। ताकि व्यापारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए शासन की मंशा भी पूरी हो जाये और छोटे से छोटे व्यापारी पर किसी भी प्रकार का ज्यादा आर्थिक बोझ न पड पाये। इससे पहले व्यापार मण्डल के अध्यक्ष विमल पोरवाल (बण्टी), उपाध्यक्ष आशीष चैधरी (सोनी), कोषाध्यक्ष संजीव गुप्ता (संजू) ने संयुक्त रूप से कहा कि पालिका द्वारा पालिका सीमान्तर्गत व्यापारियों पर लगाये गये व्यापार कर/लाइसेंस शुल्क का पुनरीक्षण कर उसकी खामियां व विसंगतियों को दूर कर जायज शुल्क लगाये। वहीं कुछ व्यापारियों ने टैक्स के बदले पालिका द्वारा मुहैया करायी जाने वाली सुविधाओं, सारे टैक्स अदायगी उपरान्त नये टैक्स लगाये जाने की आवश्यकता क्यों? आदि विषयों पर भी सवाल-जबाब किये गये। बैठक में स्वच्छता पर भी चर्चा-परिचर्चा की गई। बैठक के दौरान व्यापार मण्डल अध्यक्ष रज्जन पोरवाल, करूणाशंकर दुबे, सभासद अंशू वर्मा, शशांक यादव, बृजेश यादव मुनुआ, सुशील पोरवाल नानू बाबा, रवि पोरवाल, विवेक पोरवाल, प्रधान लिपिक अरविन्द यादव, योगेश दुबे, सन्तोष यादव, आनन्द श्रीवास्तव, आदित्य प्रताप सिंह भदौरिया, साहेब खां, मोहित यादव, पूरन सिंह चैहान सहित समस्त कर्मचारी व व्यापारियांे की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

मेरी कोशिश रहती है कि भरथना की कोई भी खबर छूटने न पाये। मेरे इस प्रयास में कृपया आप भी सहयोग करें। मेरी ईमेल srivastavatanuj06@gmail.com पर आप ख़बरें व सुझाव भेज सकते हैं। मेरा मोबाइल नम्बर 9720063658, 7037258235 है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *